स्नायु

शरीररचना विज्ञान (anatomy) में स्नायु या लिगामेन्ट (ligament) तीन भिन्न प्रकार की संरचनाओं के लिये प्रयोग किया जाता है-

  • (१) तंतुमय ऊतक जो एक हड्डी को दूसरी से जोड़ते हैं (Articular ligaments),
  • (२) पेरिटोनियम् या अन्य झिल्लियों के मोड़ (fold) को (Peritoneal ligaments),
  • (३) भ्रूणीय अवस्था की अवशेष नलिकाकार संरचनाएँ (Fetal remnant ligaments)
घुटने के जोड़ के स्नायु (लिगामेन्ट)

इनमें से सर्वाधिक प्रथम अर्थ में ही 'स्नायु' का प्रयोग किया जाता है। स्नायु (Ligaments) तंतुमय ऊतक के समांतर सूत्रों के लबें पट्ट होते हैं। इनसे दो अस्थियों के दोनों सिरे जुड़ते हैं। इनके भी दोनों सिरे दो अस्थियों के अविस्तारी भागों पर लगे रहते हैं। ये स्नायु कोशिका के बाहर स्थित रहती है और कुछ भीतर। भीतरी स्नायु की संख्या कम होती है।

इन्हें भी देखें

बाहरी कड़ियाँ

This article is issued from Wikipedia. The text is licensed under Creative Commons - Attribution - Sharealike. Additional terms may apply for the media files.