मूत्र परीक्षण पट्टी

मूत्र परीक्षण पट्टी (urine test strip या dipstick test) किसी रोगी के मूत्र की जाँच का एक मूलभूत नैदानिक औजार है। इस पट्टी में लगभग १० रासायनिक पट्टियाँ (अभिकर्मक) होतीं हैं। जब इस पट्टी के मूत्र में डुबोया जाता है तो ये पट्टे मूत्र में विद्यमान विभिन्न रसायनों से अभिक्रिया करते हैं और अपना रंग बदल देते हैं। यह परीक्षण १ या २ मिनट में भी पूरा हो जाता है (कुछ परीक्षणों के लिए इससे अधिक समय तक पट्टी को मूत्र में डुबाये रखना पड़ता है।) इस औजार की सरलता और कम समय में परिणाम मिलने के कारण अनेकों रोगों की जाँच के पहले चरण के रूप में इसी विधि का प्रयोग किया जाता है। मूत्र परीक्षण पट्टिका के द्वारा मूत्र में निम्नलिखित पदार्थों की उपस्थिति का पता लगाया जा सकता है- प्रोटीन, ग्लूकोज, कीटोन, हीमोग्लोबिन, बिलिरुबिन (bilirubin), यूरोबिलिनोजेन (urobilinogen), एसीटोन, नाइट्राइट, तथा श्वेतकोशिका। इसके अलावा इससे मूत्र का pH एवं विशिष्ट घनत्व का भी ज्ञान हो जाता है।

This article is issued from Wikipedia. The text is licensed under Creative Commons - Attribution - Sharealike. Additional terms may apply for the media files.