नकसीर फूटना

नकसीर का कारण नासासुरंगों में कहीं पर श्लेष्मल कला में व्रण (ulcer) बनना होता है। इसमें कोई रक्तवाहिका फट जाती है। इसी से रक्त निकलता है। कभी-कभी रक्त की अधिक मात्रा निकलती है। रोग कभी घातक नहीं होता। इसके अलावा नाक से खून बहने के अन्य कारण भी हो सकते हैं।

नकसीर
वर्गीकरण व बाहरी संसाधन
अन्य नाम नोज़ ब्लीड्स, एपिस्टैक्सिस
आईसीडी-१० R04.0
आईसीडी- 784.7
रोग डाटाबेस 18327
ई-मेडिसिन emerg/806  ent/701, ped/1618
MeSH C08.460.261

नकसीर फूटने के आम कारण

  • गरम और सूखा वातावरण
  • नाक में चोट लगना
  • कठोर गतिविधियां
  • उच्च रक्तचाप
  • अधिक ऊंचाई पर जाना
  • नाक जोर से झाड़ना

संक्रमण के कारण नकसीर का फूटना

नकसीर का फूटना संक्रमण के लक्षण भी हो सकता है। इन में यह बीमारियां प्रमुख हैं।

  • हे फीवर (पराग कण से होने वाला एलर्जी)
  • वायरल बुखार
  • डेंगू
  • इबोला रक्तस्रावी बुखार
  • आमवाती बुखार

[1] [2]

प्राथमिक उपचार

  • बैठ जाएं
  • सामने की ओर थोड़ा झुकें ताकि खून आपके गले में न जाए
  • नाक पर ठंडा और गीला कपड़ा रखें ताकि रक्त नालिकाओं में संकुचन हो और खून निकलना बंद हो जाए
  • यदि केवल एक नथुने से ही खून निकल रहा हो तो नथुने के ऊपरी भाग को दबाकर रखें
  • फिर भी यदि खून निकलना बंद नहीं हो रहा हो तो और 10 मिनट तक दबाकर रखें
  • यदि चोट की वजह से खून बह रहा हो तो अधिक जोर से न दबाएं
  • यदि खून निकलना बंद ही न हो रहा हो या बार बार खून निकल रहा हो तो डॉक्टर को दिखाएं।

इन्हें भी देखें

बाहरी कड़ियाँ

This article is issued from Wikipedia. The text is licensed under Creative Commons - Attribution - Sharealike. Additional terms may apply for the media files.