जल प्रक्रमण

जल प्रक्रमण (Water treatment) ऐसी प्रक्रिया होती है जिसके द्वारा जल को किसी विशेष प्रयोग के लिए तैयार या शुद्ध करा जाता है। यह प्रयोग पीना, नहाना, पौधों की सिंचाई, जल खेल, मछली पालन, इत्यादि हो सकता है। इसमें जल से प्रदूषकों व अन्य पदार्थों को निकाला जाता है।[1][2]

उत्तरी पुर्तगाल में प्रदूषित जल के लिए बना एक जल प्रक्रमण केन्द्र

इन्हें भी देखें

  • सिंचाई
  • मछली पालन

सन्दर्भ

  1. Metcalf & Eddy, Inc. (1972). Wastewater Engineering. McGraw-Hill. ISBN 0-07-041675-3.
  2. Eaton, Andrew D.; Franson, Mary Ann H. (2005). Standard methods for the examination of water and wastewater (21 ed.). American Public Health Association. ISBN 978-0-87553-047-5.
This article is issued from Wikipedia. The text is licensed under Creative Commons - Attribution - Sharealike. Additional terms may apply for the media files.